बुधवार, जनवरी 14, 2009

वसुधैव कुटुम्बकम - ब्लोगेर परिवार जिंदाबाद

दुआ मिलते ही दर्द हवा हो गयादवा का काम लगभग खत्म हो गयाआप जैसे शुभ चिंतक मिल जाए तो अशुभ किसी का कभी हो

मेरा प्यारा ब्लोगेर परिवार , देखे अपने है हज़ारजब से नए परिवार से जुड़ा ,इसे देखा इसे परखा तो रूप ,रंगजाति, देश अलग होने के बाबजूद भाषा के माध्यम से हम आपस मे जुड़े हैसबके दुःख मे हौसला बढाते हैसुखमे जश्न मनाते है

वेदों मे जो वसुधैव कुटुम्बकम की चर्चा है वह शायद हम लोग सिद्ध कर रहे हैसारे विश्व मेरा परिवार है ,और मुझेगर्व है हमारा ब्लोगेर परिवार ही दुनिया के कोने कोने मे फैला हैसातो महादीप मे हम मौजूद हैऔर बिना किसीलालच के आपस मे जुड़े हैऔर सबसे बढिया बात हमारे बीच मे मतभेद तो है मनभेद नही

ईश्वर यही प्यार हम पर बनाये रखे कोई नज़र लगे हमारे परिवार परआमीन
, ,

23 टिप्‍पणियां:

  1. हे ! ज्यादा इमोशनल नहीं होने का . क्या ! :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. ईश्वर यही प्यार हम पर बनाये रखे कोई नज़र न लगे हमारे परिवार पर । आमीन
    "" भगवान आपकी दुआ कबुल करे इसी शुभकामना के साथ.."

    regards

    उत्तर देंहटाएं
  3. अरे हाँ जी!! हम भी यही दुआ करते हैं की किसी की नजर न लगे जी !!

    काला टीका लगा ले क्या??? पर कहाँ.......

    उत्तर देंहटाएं
  4. बढ़िया . भैय्या जी कृपया ब्लॉग हेअदर जो कला कर ले पट्टी भी लग जावेगी. मकर संक्रांति की शुभकामना

    उत्तर देंहटाएं
  5. jeehan umeed hai yah sohard bana raheyga....मकर संक्रांति की शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  6. ईश्वर की कृपा है। आप स्वस्थ बने रहें।

    उत्तर देंहटाएं
  7. यही तो ख़ास बात है ब्लॉग जगत की सब साथ साथ हैं :)मकर संक्रांति की शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  8. नीबू मिर्ची टाग देते है जी ... नजर नही लगेगी
    शुभ - शुभ बोलो जी..............

    उत्तर देंहटाएं
  9. चलिये अच्‍छा है। अब नियमित पढ्ने को मिलेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  10. तथास्तु. मकर संक्रांति पर शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  11. सब से ऊपर लिख दो बडे बडे शबदो मे????.
    बुरी नजर वाले तेरा.......
    फ़िर सवाल ही पेदा नही होता कि नजर लग जाये, मेने ट्रको के पीछॆ हमेशा लिखा देखा है.
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं

  12. काश यह भावना सभी में हो..
    इस शुभ अवसर पर एक अशुभ विचार आया है, बोलूँ ?
    नहीं, सबका मूड ख़राब हो जायेगा..
    सो, आज नहीं !

    उत्तर देंहटाएं
  13. सही कहा आपने...बहुत प्यारा परिवार है...
    नीरज

    उत्तर देंहटाएं
  14. बहत ही उम्दा
    मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामना

    उत्तर देंहटाएं
  15. मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाऐं.

    उत्तर देंहटाएं
  16. क्यूँ भाई...अगर कोई दिक्कत है...तो मैं विरोधी बन जाऊं...हां.हां.हां.हा..क्यूँ उकसा रहे हो आप हमें....??

    उत्तर देंहटाएं
  17. नजर न लगे तक तो ठीक है

    पर इससे आगे

    नजर पड़े तो सही।

    उत्तर देंहटाएं
  18. इश्वर करे आपकी भावनाएं सब दिशाओं में फैलें.

    उत्तर देंहटाएं
  19. आपको लोहडी और मकर संक्रान्ति की शुभकामनाएँ....

    उत्तर देंहटाएं
  20. ईश्वर की कृपा है। आप स्वस्थ बने रहें।

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा