शनिवार, जनवरी 10, 2009

मेरे लिए दुआ कीजिये

ब्लोगिंग की यह बीमारी मुझे तब लगी जब मैं पैर मे इन्फेक्शन के कारण बेड़ रेस्ट पर था उसी समय मैंने जाना ब्लॉग क्या होता है ,ब्लॉग मे क्या होता है और ब्लॉग लिखने वाला कैसा होता है । सभी को पढ़ा और थोड़ा थोड़ा लिखा । आप का स्नेह मिलता गया मैं भी लिखता चला गया । ब्लॉग लिखने का एक फायदा यह हुआ की लेखन की हर विधा से मिलता रहा । लेकिन अचानक ऐसा लग रहा है की ब्लोगिंग से दूर न हो जाऊ । ब्लॉग लिखना एक इन्फेक्शन ने शरू कराया पैर के इन्फेक्शन ने , और ब्लॉग से दूर करने के चक्कर मे लगा है हाथ मे हुआ इन्फेक्शन वह भी दाये हाथ मे , बहुत दर्द है असहयानीय पता नही क्यूँ । इलाज चल रहा है कोशिश तो है जुडा रहू लेकिन दर्द मजबूर कर देता है । फिर भी हिम्मते मर्दा मददे खुदा

19 टिप्‍पणियां:

  1. यूँ तो सारे हाथ पैर के इन्फेक्शन ठीक हो जायेंगे-कोई भी लाईलाज बीमारी नहीं है. मगर ब्लॉगिंग के इन्फेक्शन की कोई दवा नहीं है, यहाँ तो आप अटके ही समझो. ये तो अब साथ ही जायेगी चाहे हम दुआ करें या न करें.

    लगे रहिये. सेहत पर पहले ध्यान दें. यहाँ तो आप लौटोगे ही, यह हमें मालूम है. :)

    शुभकामनाऐं मित्र.

    उत्तर देंहटाएं
  2. आराम किजीये, स्वस्थ हो जाइये पहले फ़िर लिखियेगा। स्वस्थ रहना प्राथ्मिकता है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. वैसे धीरू भैया, ब्लागिंग का इन्फेक्शन तो ऐसा होता है कि एक बार लग गया तो जाता नहीं, आपके हाथ का इन्फ़ेक्शन जल्दी ठीक हो.

    उत्तर देंहटाएं
  4. आप अपनी दवा कराइए . हम आपके लिए दुआ करेंगे .

    उत्तर देंहटाएं
  5. दवा ले हम दुआ करते है . ब्लागिंग करेंगे तो जल्दी स्वस्थ्य हो जायेंगे. ब्लागिंग एक एसा नशा है जिसका जूनून सर चढ़कर बोलता है आदमी लबरा हो जाता है और रोग शोक सब भूल जाता है .

    उत्तर देंहटाएं
  6. आपकी के लिए मैं अल्लाह मियां से दुआ करता हूँ के वो आपको जल्द से जल्द ठीक करे और वापिस ब्लोगिंग की दुनिया में छ जायें ...


    आमीन..

    अर्श

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत ही अच्छे और मधूर लेख प्रस्तुत करते हैं आप, दिल की गहराई से बहुत बहुत धन्यवाद। खूब लिखें और लिखते रहें, हमारी शुभकामनायें आपके साथ हैं, और हम ईश्वर से आपकी सफलता के लिए प्रार्थना करते है।

    उत्तर देंहटाएं
  8. बन्धु, धैर्य रखें। ईश्वर सब ठीक करेंगे। हमारी शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  9. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  10. पूर्ण विश्वास के साथ हम कह रहे हैं की आप के हाथ का दर्द बिल्कुल ठीक हो जावेगा. हो सकता है अब तक ठीक भी हो गया हो. इतने सारे लोगों की दुआ खाली थोड़े हो जायेगी.

    उत्तर देंहटाएं
  11. इन सब की दुआ के साथ हमारी भी दुआ है कि आप तमाम संक्रमणों से निजात पाएं और ब्लॉगिंग से दूर रहने के इस संक्रमण काल से जल्द ही बाहर आएं ।

    उत्तर देंहटाएं
  12. ........सेहत पर पहले ध्यान दें/मगर ब्लॉगिंग के इन्फेक्शन की कोई दवा नहीं है/

    उत्तर देंहटाएं
  13. इसे जादू कहे या आप का प्यार कल से आज मे दर्द से ५०% ज्यादा राहत महसूस हो रही है

    उत्तर देंहटाएं
  14. भगवान करे आप ज्लदी ठीक हों।

    उत्तर देंहटाएं
  15. बीमारी मे लिख्नना एक मायनै मे लाचारी नही एक हुन्रर हॆ उस्की
    झलक आप मे स्पस्ट दिखाई देती हॆ ! अपना ख्याल रखियेगा
    पराशर

    उत्तर देंहटाएं
  16. दुओ का असर है की आप का दर्द ५०% कम को गया है......शायद १००% भी.

    उत्तर देंहटाएं
  17. दुआओं में बड़ी ताकत है, आप जल्‍द स्‍वस्‍थ हों और हम सबके बीच फि‍र से लेखनी में सक्रि‍य हों।

    उत्तर देंहटाएं
  18. ईश्वर आपको जल्द स्वस्थ करे यही दुआए है !

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा