सोमवार, अक्तूबर 26, 2009

खर्चा उठाने को तैयार हो तो विजेता घोषित किया जायेगा ब्लॉग श्री , ब्लॉग भूषण ,ब्लॉग विभूषण और ब्लॉग रत्न

ब्लागर बनते हो इलाहाबाद से बुलावा आया नहीं और हमें कह रहे हो ब्लॉग लिखता हूँ . भाड़ में जाओ तुम और तुम्हारा ब्लॉग . पता चल गई अपनी औकात खाली टाइम खोटी करते हो . ऐसी कुछ आवाज़ कई लोगो के अंदर से निकल रही होगी शायद .

अब ब्लोगरो में दो खेमे है एक जो इलाहाबाद से बुलावा पाए और दूसरे वह जो ठुकराए . वैसे सब को बुलावा आ भी जाता तो उतने ही जाते जितने वहां पहुचे . बाकी तो सिर्फ मुँह गलत ही फुलाए बैठे है .

मैने तो ऐसी अंतर राष्ट्रीय समारोह सुने है जिसमे आयोजको के आलावा लोग ही नहीं पहुचते . लोग घर बैठे ही राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय जर्नल छाप देते है . यह विद्या सरकारी विश्वविध्यालय के लोगो को बहुत अच्छी तरह से आती है .

कोई बात नहीं अब हम  लोग एक पुरस्कार  समारोह रखेंगे जिसमे ब्लॉग श्री , ब्लॉग भूषण ,ब्लॉग विभूषण और ब्लॉग रत्न बाटे जायंगे . पुरस्कार विजेताओ को खर्च उठाना पड़ेगा और पुरस्कार वितरण के लिए एक नामी हस्ती जैसे पूर्व राज्यपाल , लेखक या आलोचक कि व्यवस्था भी विजेताओ को खुद ही करनी पड़ेगी .

यदि मेरा विचार सही लगे तो अपने सुझाव आपस में बाटे .

33 टिप्‍पणियां:

  1. हम तो बिना पुरस्कार के ही काम चला लेंगे :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. जय हो राजनीति ....... भला ब्लोगर्स कैसे बच पाते इस छूत की बिमारी से ....

    उत्तर देंहटाएं
  3. अरे बाबा हमे कुछ नही चाहिये, इन सब से दुरी भली, हम लिखते है अपनी मर्जी से जीते है अपनी मर्जी से हमारी तरह सब को हक है, फ़िर कोई किसे बुलाता है किसे नही हमे क्या?

    उत्तर देंहटाएं
  4. भाई बोली लगाओ ...........
    जो ढंग से खरीद ले उसी को दे दो..........

    मैं तो अपने हाथ से ही अपना सम्मान -पत्र लिख कर फ्रेम करा लूंगा जैसे आजकल बहुत से स्वनाम धन्य कवि कर लेते हैं.हा हा हा हा

    उत्तर देंहटाएं
  5. करवाते हैं प्रबंधन...गिरीश भाई, मानस भवन बुक किया जाये आयोजन के लिए. :)

    उत्तर देंहटाएं
  6. हम तो वहाँ जाकर बहुत कुछ पा चुके हैं। खरचने को तैयार हैं :)

    उत्तर देंहटाएं
  7. हमारा पुरस्‍कार तो पाठकों की टिप्‍पणियां हैं। बेखर्चे चर्चे हों तो क्‍यों खर्चा करें। खरीदने भी नहीं पड़ते। पढ़ने वाले पढ़ लेते हैं। टिप्‍पणियों से बड़ा भी कोई है पुरस्‍कार। जिनमें चाहे भरा हो प्‍यार या सलाहें हजार। हमें तो अच्‍छी लगती हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  8. टिप्‍पणी से बड़ा पुरस्‍कार होता ही नहीं है। फिर ये ब्लॉग श्री , ब्लॉग भूषण ,ब्लॉग विभूषण और ब्लॉग रत्न का यत्‍न क्‍यों....
    काहे को........... हमारे अनुसार ये आपसी प्रेम प्‍यार बना रहे ये ही काफी है।

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत सुन्दर। यह व्यंग रचना ही है न? आपने कोई लेबल नहीं लगाया इस लिये पूछा! :-)

    उत्तर देंहटाएं
  10. ब्लाग भूषण पुरस्कार का मूल्य क्या है?
    क्या इसमें कोई ट्राफी मिलेगी या सिर्फ प्रशस्ति पत्र?

    उत्तर देंहटाएं
  11. ब्लॉग श्री
    kae saath blog su-shri
    blog shrimati
    blog kanya
    blog naari
    blog chokerbali

    ityadi ka bhi koi pravdhaan rakh lae entry badh jaegii

    उत्तर देंहटाएं
  12. सब कुछ हो जायेगा लेकिन बेनामी के लिए कुछ नहीं

    उत्तर देंहटाएं
  13. टिप्पणी श्री , टिप्पणी भूषण ,टिप्पणी विभूषण और टिप्पणी रत्न
    का भी कुछ जुगाड़ करें
    दोनों एक साथ हो जाएँ :-)

    उत्तर देंहटाएं
  14. गिरीश भाई मानस भवन बुक कराया जाये, हम भी पहुँच रहे है। चंदे का धंधा भी अच्‍छा है।

    उत्तर देंहटाएं
  15. चलिए सब बिना चंदे के हम सर्टिफिकेट दे देते है . ......ब्लागिंग जगत अनुकरणीय सेवाए प्रदान के तारतम्य में आपको ब्लॉग.......श्री......शिरोमणि आदि आदि की .उपाधि प्रदान की जाती है . आशा ही नहीं वरन पूर्ण विश्वास है की आप हम ब्लागरो को याद करते रहेंगे और टिप्पणी देते रहेंगे. आपके उज्जवल भविष्य की कामना के साथ ......

    उत्तर देंहटाएं
  16. माबदौलत का फ़रमान हो तो उपाधि पत्रक मुद्रित रायपुर मे ही
    करवा लिए जायें-और जिनको उपाधि एवम सम्मान चाहिए पहले
    अपने घर से ही पुष्पहार पहन कर आना होगा और सर्व प्रथम अपनी श्रीमति के हाथों सम्मानित होने का प्रमाण भी लाना होगा,
    मानस भवन की बुकिंग पर दो वोट आ चुके हैं एक मेरा भी समझ लिजिए, बंदा हाजिर है सेवा मे।

    उत्तर देंहटाएं
  17. हाय! अरे कोई मुझे नवोदित ब्लौगर का पुरस्कार ही दे दे!:(

    उत्तर देंहटाएं
  18. चलिए आप एक अच्छा और हमारे मन का काम करने जा रहे हैं. इस बार भारत रत्न पर विवाद को देखते हुए हमने भी भारतीय रत्न नाम से सम्मान देने की घोषणा की थी.
    इसके बाद हमने भी रामविलास पासवान की तरह (बिना एक भी सांसद के) सोनिया जी को सरकार बनाने के लिए बिना शर्त समर्थन देने की चिट्ठी लिख डाली थी.
    ये भी अच्छा लगा, हम प्रचार में आपके साथ हैं........

    उत्तर देंहटाएं
  19. न तो खर्चा करना है न ही सम्मान पाना है.बीमारी के लिए भी क्या कोई सम्मान दिया जाता है? मानस भवन में हम भी उपस्थिति दे देंगे.

    उत्तर देंहटाएं
  20. या तो छतीसगढ मे करवायें या जबलपुर मे दोनो जगह अपने घर है एक मायका एक ससुराल ।

    उत्तर देंहटाएं
  21. घिरुभाई

    ★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★
    क्या हो रिया है अपने हिन्दी ब्लोगानन्दजी के सफर मे ?

    अरे भाई! कोई तो बचाओ ब्लोगानन्दजी के स्वाभिमान को।

    ★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★

    ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥
    हिन्दी चिठ्ठो मे मन मुटाव एवम टॉग खिचाई की रस्म ( राजनिति)

    अब प्रायः देखने को मिल रही है। धिरुभाई! यह चिन्ता का या चितन का

    विषय जरुर है।

    ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥


    हेपी ब्लोगिग
    हे! प्रभु यह तेरापन्थ
    SELECTION & COLLECTION

    उत्तर देंहटाएं
  22. धीरू भाई,

    मेरी पत्नीश्री बरेली के मॉ़डल टाउन की ही हैं...इसलिए अगली बार जब बरेली आऊंगा तो एक-आध पदवी के जुगाड़ के लिए आप से लाइन भिड़ाऊंगा...

    जय हिंद...

    उत्तर देंहटाएं
  23. क्या होती है एक आदर्श ब्लोग्गर मीट , कैसे करते हैं उसकी रिपोर्टिंग , कैसे वहां बैठना, चलना और फोटू खिंचवाना ‘चहिये ‘ , और भी बहुत कुछ ……देखें सिर्फ़ यहाँ — maykhaana.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  24. trp ke chakar me t.v. patrikarita barbad ho gaya ab bari blogars ki hai.. mang hai to purtee karne vale to milenge hee.......

    उत्तर देंहटाएं
  25. अरे रखिये अपने पुरस्कार.......

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा