शनिवार, अक्तूबर 03, 2009

मनेका गाँधी के संसदीय जिले में बकरा देता है दूध

पशु प्रेम के लिए विख्यात मनेका गाँधी के संसदीय क्षेत्र के जिले में  बकरे ने इतना अपार स्नेह पा कर दूध देना शुरू कर दिया . यह मज़ाक नहीं सत्य है .


 प्राप्त जानकारियों के अनुसार ग्राम चन्दऊ के रेवती राम का बकरा एक बार में २५० ग्राम तक दूध देता है . और जांच कराने पर दूध की क्वालिटी भी ठीक निकली है .और खास बात बकरे की प्रजनन शक्ति भी काफी अच्छी है . 


ख़ैर इस क्या कहेंगे  यह आप ही जाने . 







13 टिप्‍पणियां:

  1. लेकिन भाई बकरे का दुध निकलते कहां से है????

    उत्तर देंहटाएं
  2. अब इस बारे में क्या कहे ? आप कह रहे है तो सच मान लेते है |
    वैसे हम तो बकरे या भेंसे का दूध निकालने का मतलब किसी महा कंजूस दोस्त से से खर्चा करवाना समझते है |

    उत्तर देंहटाएं
  3. बधाई हो,पूरे संसदीय क्षेत्र के लोगों को।

    उत्तर देंहटाएं
  4. यह नर बकरों द्वारा मादा बकरियों के बकराधिकार का स्पष्ट उल्लंघन है. ऐसे बकरे को छठी का दूध याद दिला देना चाहिए.

    राज भाटिया जी के सवाल का उत्तर दिया जाय!

    उत्तर देंहटाएं
  5. कुदरत की माया है ......... या ये भी हो कह सकते हैं .......... कलयुग है कुछ भी हो सकता है ........

    उत्तर देंहटाएं
  6. मेनका गांधी बधाई की हकदार हैं :)

    उत्तर देंहटाएं
  7. अनहोनी को होनी कर दे
    अमर, अकबर, अन्तोनी :)

    उत्तर देंहटाएं
  8. अब हम क्या कहें? आप बता रहे हैं तो ठीक ही होगा।

    उत्तर देंहटाएं
  9. इस बकरे की नस्ल बढ़ाने के बारे मे गम्भीरता से सोचना चाहिये ।

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा