बुधवार, फ़रवरी 25, 2009

५ करोड़ - कहाँ से लाये फिरोती देने को

5 karor / you your family murder very soon ।
५ करोड़ सिर्फ़ इतनी ही फिरोती मांगी है हमसे । आज एक पत्र डाक से आया उस पर लिखा है यह सब । बरेली के वरिष्ट पुलिस अधिकारी को यह पत्र दे दिया गया है । उचित कार्यवाही के लिए ।

अगर यह सब सच है तो ५ करोड़ तो बिक कर भी पूरे नही कर पाएंगे हम । तो आगे अगर सच हुआ मैं मेरा परिवार कत्ल कर ही दिया जायेगा यानी सब खत्म ।

कुछ भी हो सकता है हम भी हर स्थिति को तैयार बैठे है । पता नही कब यह दरवार सिमट जाए लेकिन

जाको राखे साईया मार सके न कोई
बाल न बाका कर सके चाहे जग बैरी सो होय

13 टिप्‍पणियां:

  1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. क्या आपको यह धमकी भरा पत्र मिला है?
    कृपया पूरी बात बताएं. अगर ऐसा है भी तो साहस न खोएं.
    नेक लोगों के रास्ते में बाधाएं आती ही हैं.
    भगवान् सब ठीक करेगा.

    उत्तर देंहटाएं
  3. धीरू भाई आपने सही लिखा है जाको राखो साईंया मार सके न कोय,और फ़िर 5 करोड़ रूपये की फ़िरौती पत्र लिख कर मांगने वाला लोकल चप्पल चोर होगा।इतनी रकम मांगने वाले तो हाई-टेक़ होते है,वे पत्र-फ़त्र नही लिखते,सीधे फ़ोन लगा कर मांग लेते है जो मांगना होता है।और हां रहा सवाल दरवार सिमटने का तो वो सिवाय साई के किसी के बस का नही है।आपका दरवार हमेशा गुलज़ार रहे।

    उत्तर देंहटाएं
  4. धीरू जी
    धीरज न खोये किसमें हिम्मत जो ब्लोगेर भाई से ऐसे जुर्रत करे.
    आनंद में रहें.........."जिसको राखे" ....आपने लिखा तो है

    उत्तर देंहटाएं
  5. समझ नहीं आया। पर यूपोरियन महौल में सम्भव भी लगता है ऐसा पत्र मिलना। सावधान रहियेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  6. धीरू जी, भगवान ना करे की कभी किसी के साथ कोई हादसा हॊ।लेकिन सावधान रहें।।

    उत्तर देंहटाएं
  7. धीरे भाई आपकी बात समझ में नहीं आई। लगता है आप कुछ जल्दी में थे, अगली बार विस्तार से लिखें, तो अच्छा रहेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  8. कहीं यह ताऊ का चक्कर तो नहीं।:) यदि नहीं, तो फिर ज़रा पूरी बात बताएं! क्योंकि वाकई यह सीरियस मामला है, शायद हर ब्लागर के लिए!

    उत्तर देंहटाएं
  9. बस चौकन्ने रहिये, सचेत रहिये, इतना तो किया जा सकता है. शेष, जैसा की आपने कहा, "जाको राखे साइयां मार सके न कोय"

    उत्तर देंहटाएं
  10. मित्र, पुलिस के पास गये, सोच समझ कर जाइयेगा क्योंकि पुलिस और .......... में अधिक अन्तर नहीं है.

    उत्तर देंहटाएं
  11. अरे ! यह कया भाई ध्यान से लेकिन डरे नही, घर मे लाठी ओर कोई हाथ का हथियार जरुर रखे, चोकनें रहे, किसी भी अन्जान को गली मुहल्ले मे देखे तो जरुर पुछॆ किस से मिलना है ओर घर से कोई भी अकेले मत निकले, हिम्मत रखे ओर घर वालो को भी हिम्मत बंढाये, अगर कोई बदकिस्मती से हादासा हो तो लडे, जो भी लडे साले को मार दे, अपनी सुरक्षा मे यह भी कर सकते हो.
    भाई अपना ध्यान रखे,

    उत्तर देंहटाएं
  12. कुछ नहीं होगा आपको....ऊपर वाला है अभी...

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा