रविवार, जनवरी 30, 2011

बापू को एक पत्र

आदरणीय बापू
सप्रेम चरण स्पर्श

बहुत सालो से आपको चिट्ठी लिखने का मन था . यह बता दू मैं आपका ५०% प्रशंसक हूँ और ५०% आलोचक .
 बापू अफ्रीका से जब आप आये थे तब भी आज़ादी का आन्दोलन उसी गति चल रहा था लेकिन सितारे आपके साथ थे और १८५७ से सतत लड़ने वालो को भूल कर सब आप पर फ़िदा हो गए . आप के कुशल नेतृत्व में आज़ादी की लड़ने वाली लडाइयां टेबिल पर आ गई .खैर बापू आपको चोरा चोरी की हिंसा तो दिखी लेकिन भगत सिंह और उनके साथियो की फासी हिंसा नही दिखी .

छोड़िये इन बातों को क्या फ़ायदा . बापू आज भी आप चर्चा में रहते हो आपका मीडिया मैनेजमेंट इतना अच्छा था कि आप को अमर कर गया . बापू एक बात माननी पड़ेगी आप को अमर करने में गोडसे की बहुत बड़ी भूमिका थी . अगर गोडसे आपके प्रति हिंसा का प्रयोग नही करता तो आपकी गति भी जिन्ना की तरह होती .

बापू कभी तो आप से मुलाक़ात होगी .तो होंगी बाते . लेकिन बापू अपने बारे में सच लिखना और वह सच लिखना जो आप ही जानते हो बहुत ही कठिन है या कहें असम्भव है . यही आपकी आदत आपकी बहादुरी को दर्शाती है .

बापू आज आपकी पुण्यतिथी पर आपको श्रधांजलि

आपका ही
धीरू


सेवा में,
महात्मा गांधी
जहाँ में जहा कही भी हो 

9 टिप्‍पणियां:

  1. बापू को श्रद्धान्जलि। उससे भी अधिक इस बात से दुखी होंगे कि उनका नाम लेकर लोग भ्रष्टाचार में लगे हुये हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  2. विनम्र श्रद्धांजलि महान बापूजी को ...स्मरण करने के लिए धन्यवाद्.

    उत्तर देंहटाएं
  3. गांधी से सबसे अधिक लाभ तो नाम से मिला ... गांधी जी का योगदान भी आजादी में बहुत अहम था... उनके बिना भी आजादी नहीं मिल सकती थी..

    उत्तर देंहटाएं
  4. ये व्यंग नही ... आपके द्वारा सभी के दिल की पुकार है ... मज़ा आ गया पढ़ के धीरू जी ...

    उत्तर देंहटाएं
  5. हम भी बापू जी को अपनी श्रद्धांजलि समर्पित करते हैं!

    उत्तर देंहटाएं
  6. विनम्र श्रद्धांजलि महान बापूजी को ...स्मरण करने के लिए धन्यवाद्.

    उत्तर देंहटाएं
  7. महान भारत के 'महान महात्मा' को श्रद्धांजलि |

    उत्तर देंहटाएं
  8. बापू को सादर श्रद्धांजलि - समझाने के लिए इशारा ही मात्र ही किया जाता है जो आपने किया है

    उत्तर देंहटाएं
  9. बापू के नाम पत्र .... आपका यह अंदाज वाकई बड़ा निराला लगा ...अपनी बात कह जाने का..... बात बापू जी तक पहुची हो ना हम तक पहुच गयी........धन्यवाद इस पत्र के लिए...

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा