मंगलवार, अप्रैल 28, 2009

सी.बी .आई करे क्लीन - क्या कांग्रेस मान गई कि वह हार रही है .

क्या हो रहा है सी.बी .आई दनादन क्लीन चिट दिए जा रही है कांग्रेस से संवन्धित केसों पर । पहले बेचारे टाइटलर को क्लीन चिट देकर क्लीन कर दिया अब क़वात्रोची मामा को क्लीन कर दिया । कहीं कांग्रेस को यह तो नही लग रहा है की वह चुनाव हार रही है और वक्त है अभी अपने साथियों को क्लीन करवा दे ।

ऐसा मेरा सोचने का मतलब यह नही कि मै भाजपा के साथ हूँ । मेरे लिए जैसे साँप नाथ वैसे नाग नाथ । बेचारी सी.बी .आई तो सत्ता के हरम कि रक्कासा है जिसकी सत्ता उसके इशारे पर नाचेगी । और सी.बी.आई के अफसर बेचारे सरकार की ही बजाते है क्योकि वह उसका नमक खाते है और वह साबित करते है कि वह नमक हराम नही ।

ख़ैर किसी को क्लीन चिट मिले या डर्टी चिट अपने बाप का क्या जाता है । खुदा न खास्ता कभी सी.बी.आई अपनी जाच करेगी तो हम भी सरकार मे शामिल हो जायेंगे क्योकि सरकार नाम का साबुन मतलब क्लीन झकास

5 टिप्‍पणियां:

  1. sach kahun to hasi aati hai aajkal ke munsafi pe..

    ek she'r yaad aagayaa.

    ye kaise log hai kya khub munsafi ki hai..
    hamaare katlaa ko kahate hai khudkushi ki hai...


    bahot bahot aabhaar aapka

    arsh

    उत्तर देंहटाएं
  2. लोग ठीक ही कह रहें हें इनदिनों...
    "कांग्रेस ब्यूरो ऑफ़ इन्वेस्टिगेशन "
    अरे भाई जिसकी लाती, भैंस भी उसीकी...!!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. यह तो यूं लग रहा है कि कांग्रेस अपने वापस लौटने के प्रति आश्वस्त नहीं है।

    उत्तर देंहटाएं
  4. आप ठीक कह रहे हैं। ऐसे ही मामलों के चलते जनता की निगाह में सीबीआई की साख गिर गयी है। दिक्‍कत है कि जो सरकार सत्‍ता में आती है, वह यही करती है। इसीलिए प्रतिपक्ष द्वारा सीबीआई के दुरुपयोग के खिलाफ ईमानदारी से आवाज भी नहीं उठायी जाती।

    उत्तर देंहटाएं
  5. सही कहा...........सी.बी.आई............आजकल कोंग्रेस की mousi बनी huyi है ऐसे मामलों se जनता की निगाह में सी.बी.आई. की साख गिर गयी है

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा