सोमवार, अप्रैल 13, 2009

जलियाँवाले बाग़ के शहीदों को नमन

जलियावाले बाग़ के शहीदों को आज याद कर ही लेते है ,
आज़ादी को आहुति देने वालो को श्रधान्जली दे ही देते है



क्योकि हमें शायद फुर्सत नही है इन सब चीजो को याद रखने की

12 टिप्‍पणियां:

  1. जलियाँवाला बाग के शहीदों की स्मृति को प्रणाम ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. आप सच कह रहे हैं सभी भूलते जा रहे हैं उन अनाम शहीदों को।
    हमारा उन्हें कोटि कोटि नमन।

    उत्तर देंहटाएं
  3. जलियाँवाला बाग के शहीदों को नमन।

    regards

    उत्तर देंहटाएं
  4. शहीदों के प्रति नतमस्तक हैं...
    नीरज

    उत्तर देंहटाएं
  5. नमन है ऐसे सब वीरों को ...........जिन्होंने कुर्बानी दी ..........

    उत्तर देंहटाएं
  6. इस रविवार को ही हिस्ट्री चैनल पर भगत सिंह की फिल्म आ रही थी ऑर बीच बीच में भगत सिंह से जुड़े विवध सस्न्मरण भी बताये जा रहे थे.. सच मानिए बहुत क्षोभ हुआ कि हमने शहीदों को किस कदर भुला रखा है.. पर गौर से देखा जाए तो वजह दूसरी है.. इतिहास ने गांधी नेहरु के बारे में तो बहुत कुछ बताया है पर भगत सिंह आजाद बिस्मिल जैसे लोग कही नज़र नहीं आ पाए.. मैं नहीं जानता कि आज़ादी में किसका कितना योगदान था पर गांधी नेहरु अपनी ज़िन्दगी जी कर मैदान में उतरे थे भगत सिंह राजगुरु सुखदेव की तो उम्र भी नहीं थी जाने की..

    शहीदों को नमन भर कहने से काम नहीं चलेगा..

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपने याद दिलाया। हमें सच में याद न था।
    इस घटना को कोई भारत वासी कभी हल्के से नहीं ले सकता।

    उत्तर देंहटाएं
  8. जलियाँवाला बाग के शहीदों को नमन

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा