शुक्रवार, अप्रैल 24, 2009

बेचारे अमर सिंह - पीटा ठाकुर लुटा बनिया

पीटा ठाकुर और लुटा बनिया किसी को कुछ नही बताता ऐसा कहा जाता है हमारे यहाँलेकिन हिन्दुस्तान का एकपेशे से बनिया जाति से ठाकुर आदमी जो अमर सिंह के नाम से जाना जाता है जब पिटता है लुटता है तो जब तकसब को बता नही देता चैन से नही बैठताऔर मीडिया तो शायद इतना फालतू है कि अमर सिंह कि हरकतों कोबडा चडा कर प्रचारित करता है

आज किसी नाना ने अमर सिंह को धमकी दीनाना कौन अरे छोटा राजन वही हिंदू माफिया उसने अबू आज़मीका चुनाव प्रचार करने को मना किया हैअमर सिंह ने सब को इन्तला कर दी हैशायद दाउद भाई को भी बतादिया होगा लेकिन भाई का भाई मारा गया है इसलिए शायद भाई कि अभी प्रतिक्रिया नही मिल पायेगी

खैर अभी ऐसे कई नाटक देखने को मिलेंगे अमर सिंह के सौजन्य से . इंतज़ार कीजिये

12 टिप्‍पणियां:

  1. ये अमर सिंह भी एक अजीब चरित्र है ! इन्हें तो बस ख़बरों में रहने का बहाना चाहिय बस !इसलिय लुटे या पीटे ये मिडिया को जरुर बताएँगे प्रचार जो मिल जाता है |

    उत्तर देंहटाएं
  2. मुझे तो इन में राजपूतो वाला कोइ गुण नजर नहीं आता |ये अपने आप को चाहे लाख बार राजपूत कहे |

    उत्तर देंहटाएं
  3. अमर सिंह,राजनारायण की जगह लेते नज़र आते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  4. नमस्कार,
    इसे आप हमारी टिप्पणी समझें या फिर स्वार्थ। यह एक रचनात्मक ब्लाग शब्दकार के लिए किया जा रहा प्रचार है। इस बहाने आपकी लेखन क्षमता से भी परिचित हो सके। हम आपसे आशा करते हैं कि आप इस बात को अन्यथा नहीं लेंगे कि हमने आपकी पोस्ट पर किसी तरह की टिप्पणी नहीं की।
    आपसे अनुरोध है कि आप एक बार रचनात्मक ब्लाग शब्दकार को देखे। यदि आपको ऐसा लगे कि इस ब्लाग में अपनी रचनायें प्रकाशित कर सहयोग प्रदान करना चाहिए तो आप अवश्य ही रचनायें प्रेषित करें। आपके ऐसा करने से हमें असीम प्रसन्नता होगी तथा जो कदम अकेले उठाया है उसे आप सब लोगों का सहयोग मिलने से बल मिलेगा साथ ही हमें भी प्रोत्साहन प्राप्त होगा। रचनायें आप shabdkar@gmail.com पर भेजिएगा।
    सहयोग करने के लिए अग्रिम आभार।
    कुमारेन्द्र सिंह सेंगर
    शब्दकार
    रायटोक्रेट कुमारेन्द्र

    उत्तर देंहटाएं
  5. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  6. कभी अमर चित्र कथा पढते थे अब अमर विचित्र कथा देखते हैं :)

    उत्तर देंहटाएं
  7. एक दिन सारा फिल्म उद्योग
    अमर सिंह चलाएगे !

    उत्तर देंहटाएं
  8. चोर चोर मोसेरे भाई.............अमर सिंह तो सबसे बड़े नाटक कार हैं

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा