शनिवार, दिसंबर 25, 2010

अटल जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाये

 



आज  श्री अटल बिहारी बाजपेई का जन्मदिन है . एक लोकप्रिय राजनेता प्रख्यात कवि असाधारण व्यक्तित्व और सरल स्वहाव के धनी  अटल जी को जन्मदिन की ढेरो शुभकामनाये .

मुझे याद आता है उनका सहज व्यक्तित्व जब वह नेता विरोधीदल थे और मेरे पिता भाजपा के संसदीय दल के सचेतक थे . जब अटल जी को संसद में कभी किसी कारण वश ना होना होता था तो वह खुद फोन से सूचित कर देते थे .

अटल जी देश की धरोहर है . मै उनके उत्तम स्वास्थ्य की कामना करता हूं .

13 टिप्‍पणियां:

  1. हमारी भी शुभकामनाएँ अटल जी तक पहुँचा देना!

    उत्तर देंहटाएं
  2. पूरे हिंदी ब्लॉग जगत की ओर से अटल जी को जन्मदिन की बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  3. अटल जी को हार्दिक शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  4. अटल जी को हार्दिक शुभकामनाये.

    उत्तर देंहटाएं
  5. अटल जी जैसा नेता अभी तक तो नहीं दिखा। आगे की राम जाने। अटल जी जैसा व्यक्तित्व भविष्य में देखने मिल जाए तो देश को अवश्य ही एक नयी दिशा मिलेगी। परमाणु परीक्षण करना एक एतिहासिक और गौरवान्वित करने वाला फ़ैसला था। जिससे देश के हर नागरिक का सिर फ़क्र से ऊंचा हुआ। महाशक्तियों के भी कान खड़े हो गए और भारत की बात सुनने लगे।

    वेद सुक्ति है
    शस्त्र रक्षिते राष्ट्रे शास्त्र चर्चा प्रबर्तते
    (जिस राष्ट्र की रक्षा शस्त्रों से होती हो वह चतुर्दिक उन्नति करता है।

    अटल जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  6. अटल जी मेरे प्रिय नेता रहे हैं। शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपकी रचना वाकई तारीफ के काबिल है .
    Atal ji hamari bhi Badhai !

    * किसी ने मुझसे पूछा क्या बढ़ते हुए भ्रस्टाचार पर नियंत्रण लाया जा सकता है ?

    हाँ ! क्यों नहीं !

    कोई भी आदमी भ्रस्टाचारी क्यों बनता है? पहले इसके कारण को जानना पड़ेगा.

    सुख वैभव की परम इच्छा ही आदमी को कपट भ्रस्टाचार की ओर ले जाने का कारण है.

    इसमें भी एक अच्छी बात है.

    अमुक व्यक्ति को सुख पाने की इच्छा है ?

    सुख पाने कि इच्छा करना गलत नहीं.

    पर गलत यहाँ हो रहा है कि सुख क्या है उसकी अनुभूति क्या है वास्तव में वो व्यक्ति जान नहीं पाया.

    सुख की वास्विक अनुभूति उसे करा देने से, उस व्यक्ति के जीवन में, उसी तरह परिवर्तन आ सकता है. जैसे अंगुलिमाल और बाल्मीकि के जीवन में आया था.

    आज भी ठाकुर जी के पास, ऐसे अनगिनत अंगुलीमॉल हैं, जिन्होंने अपने अपराधी जीवन को, उनके प्रेम और स्नेह भरी दृष्टी पाकर, न केवल अच्छा बनाया, बल्कि वे आज अनेकोनेक व्यक्तियों के मंगल के लिए चल पा रहे हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  8. अटल जी हमारे भी प्रिय नेता रहे हैं।उन्हें बहुत बहुत शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  9. देर से ही सही, हमारी भी शुभकामनायें अटल जी के लिये।

    उत्तर देंहटाएं
  10. अटल जी को जन्मदिन की बहुत बहुत बधाइ ...

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा