शुक्रवार, मार्च 04, 2011

आप सादर आमन्त्रित है

मेहनत जब रंग लाती है तब अपने पर एक अज़ीब सा गर्व महसूस होता है . जबकि मै तो निमित्त मात्र हूं और दुनिया के इस रंग मंच पर अपनी भूमिका निभा रहा हूँ . उपाधिया बदल सी रही है पहले मै धीरू भैय्या कहलाता था अब धीरू सर कहलाया जा रहा हूँ कुछ लोगो द्वारा . 






कुछ इस तरह मेरा ऊपर भी मुलम्मा चढ़ रहा है . आजकल यहाँ ही कार्यरत  हूँ . यह सब ईश्वर की कृपा ,माँ पिता के आशीर्वाद , और मित्रो की सद्भावना  के बिना हासिल नहीं होता . 

६ मार्च को पूजा अर्चना के साथ हम इसका शुभारम्भ कर रहे है . आप सादर आमंत्रित है 
स्थान ;- कोरल मोटर्स 
             बरेली रोड 
             बदायूं 

14 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाएँ..

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बधाई एवं शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत बधाई एवं शुभकामनाएँ, धीरु सर

    उत्तर देंहटाएं
  4. धीरू भाई, हार्दिक बधाई एवं अनंत शुभकामनाएँ! हमारी मिठाई बरेली-बदायूँ-दातागंज की अगली यात्रा तक उधार रही!

    उत्तर देंहटाएं
  5. धीरू भाई, बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !
    हमारी मिठाई उधार रही !

    उत्तर देंहटाएं
  6. हम अल्टो में आयेंगे और स्विफ्ट में जायेंगे.. आप तैयार रखना..

    बहुत बहुत शुभकामनाये धीरू सर :)

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत बहुत शुभकामनाये धीरू सर :)

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत बधाई, आपकी दिनों दिन उन्नति हो।

    उत्तर देंहटाएं
  9. बधाई और शुभकामनाएं :) ईश्वर आपके वैभव में चार-चांद लगाए और आप के माता-पिता का आशीर्वाद सदा बना रहे॥

    उत्तर देंहटाएं
  10. बधाई।
    धीरू सर नहीं कहा जायेगा जी, धीरू भाई थे पहले भी हमारे, अब भी वही रहेंगे आप।
    क्या प्रोजैक्ट है, शायद मारुति डीलर बन रहे हैं आप,ऐसा क्या?
    बधाई फ़िर से:)

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत बहुत बधाई हो... अगर पहले पता होता तो आप से ही गाड़ी लेते... कुछ तो बचत होती... बरेली में भी एक है... कोरल मोटर्स...

    उत्तर देंहटाएं
  12. धीरु सर ... बहुत बधाई एवं शुभकामनाएँ ....

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा