शनिवार, अक्तूबर 30, 2010

I miss you , Paa { एक बेटी की पोईम पापा के लिये }

बच्चे जब बड़े होने लगते है तो एक अजीब सी खुशी का अनुभव होता है . आज मेरी बेटी हास्टल से घर आयी है कई महीने बाद उसने एक पोइम मेरे लिए लिखी है . अभी वह 8th क्लास में है . मेरा तो अंगरेजी ज्ञान बहुत सीमित है . आप ही निर्धारित करे उसने कैसा लिखा . [ यह पोइम उसने मेरे जन्मदिन पर अपने होस्टल में लिखी है ]

     I miss you , Paa  

 Why did you have to go Paa
  Why did you have to go Paa
  Why did you have me behind    
  With nothing to do but cry 
                                                             
  I miss you terribly ,paa 
  I can't believe that your's far 
  I can't believe this had happened 
  I don't know life will go on 

  These times we had together 
  Keep coming back to me 
  Those shopping place,eat outs
  And all the movies we want to see 

  I miss all the talk and walk
 And splendid love you showed 
 The guidance you gave 
 And all my sorrows you took 

  The marvelous power of understanding 
  And great enthusiasm towards yours girl
  I remember how proud you were 
  And i'll be always daddy's girl      
                                                                                                     
                                         - AKSHITA-                                                             
                                                                 

14 टिप्‍पणियां:

  1. धीरू भाई, बहुत बहुत बधाइयाँ .....अपनी भावनाओ को बेहद उम्दा तरीके से पेश किया है अक्षिता ने ! मेरी राय है अगर उसके पास अपनी पढाई के बाद कुछ समय रहता है और अगर वहाँ नेट है तो हिंदी ब्लॉग जगत को अक्षिता के रूप में एक बढ़िया ब्लॉगर मिल सकता है !

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बढिया .. बिटिया को आशीर्वाद !!

    उत्तर देंहटाएं
  3. thanks for your replies and i read those comments
    also which you all gave on my birthday
    THANKS A LOT
    Akshita

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत सुंदर- बिटिया का उत्साह वर्धन कीजिए
    मेरी तरफ़ से अक्षिता बिटिया को ढेर सारा प्यार

    उत्तर देंहटाएं
  5. प्यार से लिखी हर बात खूबसूरत होती है.. बिटिया ने बहुत अच्छा लिखा

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुंदर भाव व्यक्त किये हे बिटिया ने, बिलकुल आप पर गई हे, इस सुंदर ओर भाव पुर्ण रचना के लिये आप का ओर बिटिया का धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  7. कविता मन के भाव को प्रगट करने का माध्यम है ... और बिटिया ने बहुत ही गज़ब तरीके से व्यक्त किया है ....
    पिता के लिए गर्व क़ि बात है ये ...

    उत्तर देंहटाएं
  8. अक्षिता ने बहुत सुन्दर लिखा है। पिता के प्रति व्यक्त पंक्तियाँ, घर में बह रही स्नेहमयी धारा को बल प्रदान करती हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत सुन्दर...भावपूर्ण...बिटिया को आशीष.

    उत्तर देंहटाएं
  10. धीरू भाई, बढ़िया लगा आपकी ये पोस्ट पढकर ! बहुत ही भावपूर्ण रचना लिखी है बेटी ने ! उसने पिता और पुत्री के बीच के प्रेम और भावों को अपनी रचना में उत्कृष्ट तरीके से उकेरा है ! my best wishes are with her and tell her from my side that - 'keep it up bravo'

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत ही सुंदर लिखा है....अक्षिता बेटी के प्यारे भावों के लिए शब्द ही नहीं हैं.....

    उत्तर देंहटाएं
  12. आपको और आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामाएं ..

    उत्तर देंहटाएं

आप बताये क्या मैने ठीक लिखा